Dusu चुनाव में Abvp की जीत के 6 कारण

Dusu चुनाव में abvp की जीत के 6 कारण रिपोर्ट अनमोल नाथ बाली 25 सितंबर 2023

डूसू चुनाव में abvp ने तीन पदों पर जीत हासिल की एबीवीपी के तुषार डेढा ने अध्यक्ष पद अपराजिता और सचिन बैसला ने क्रमशः सचिव और संयुक्त सचिव पद और nsui के अभि दहिया ने उपाध्यक्ष पद पर जीत हासिल की photo credit instagram

इंडिया टुडे टीवी ने इस बार की जीत के पीछे की वजहें जानने के लिए विभिन्न एबीवीपी नेताओं से बात की कि dusu 2023 चुनावों के लिए अभियान कैसे प्रबंधित किया गया उन्होंने 6 कारण बताए photo credit instagram

1 abvp के मुताबिक उनके कार्यकर्ता जमीन पर सक्रिय थे जब cuet को डीयू में प्रवेश के लिए प्रवेश द्वार के रूप में पेश किया गया था तो उम्मीदवारों की मदद की जब सीयूईटी और अन्य प्रवेश परीक्षाओं में गड़बड़ियां पाई गईं तो छात्रों के साथ भी खड़े रहे photo credit instagram

2 एबीवीपी जीत की दूसरी वजह कॉलेज इकाइयों को मानती है भगवा छात्र संगठन ने डीयू के सभी 52 कॉलेजों को 7 क्षेत्रों में बांटा था एबीवीपी राष्ट्रीय मीडिया संयोजक आशुतोष सिंह ने कहा क्षेत्रों में विभाजन से हमारे लिए कॉलेज इकाइयों का प्रबंधन करना आसान हो गया photo credit instagram

3 सफलता की तीसरी वजह नेतृत्व को बताया एबीवीपी से जुड़े छात्र और कार्यकर्ताओं का कहना है जहां अन्य पार्टियां टिकट को लेकर गुटबाजी का सामना कर रही थीं एबीवीपी सभी उम्मीदवारों का प्रबंधन करने में सक्षम थी और उन्हें एक ही पृष्ठ पर लाने में सक्षम थी photo credit instagram

4 एबीवीपी दिल्ली के प्रदेश मंत्री हर्ष अत्री ने कहा यह सब हमारे उच्च नेतृत्व के कारण संभव हुआ जो हर विकास पर नज़र रख रहा था photo credit instagram

5 एबीवीपी दिल्ली अध्यक्ष अभिषेक टंडन ने चुनाव की रणनीति बनाई वह चुनाव प्रभारी थे जिन्होंने सभी पहलुओं पर नजर रखी छात्र चुनावों में एबीवीपी की जीत के लिए राम कुमार आनंद श्रीवास्तव और प्रफुल्ल एकांत जैसे अन्य एबीवीपी नेता भी मैदान में थे photo credit instagram

6 एबीवीपी कार्यकर्ता यह भी बताते हैं कि जीतने वाले तीनों उम्मीदवार पांच साल से अधिक समय ��े संगठन के लिए काम कर रहे हैं और संगठन के साथसाथ छात्रों पर भी उनकी मजबूत पकड़ है photo credit instagram